मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की पूरी जानकारी

कन्या विवाह योजना बिहार की शरुआत राज्य सरकार के द्वारा की गयी जिसका प्रमुख उद्देश्य बाल विवाह को रोकना था इस योजना में कन्या के माता पिता को कन्या का विवाह 18 वर्ष के बाद करने के लिए कहा गया है और उसके जन्म निबंधन को बनाने के लये जागरूक किया है
मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में बीपीएल परिवार में जन्मी 2005 के बाद बेटियों को सरकार की ओर से 5 हजार रुपये का भुगतान कन्या के नाम पर चेक या डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा किया जाता है इस योजना को सन 2012 में 13 अगस्त को लोक सेवा के अधिकार अधिनियम में शामिल कर लिया गया है

Read : Mukhyamantri Kanya Vivah Yojana Bihar in English

इस योजना में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी या जिला विकास पदाधिकारी के पास आवेदन कर सकते है और इस योजना में जातियो और जनजातियों पर विशेष ध्यान दिया गया है
इस योजना में 2007 से 2008 में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की शुरुआत की गयी. इसके अंतर्गत बीपीएल कार्ड और ऐसे परिवार जिनकी वार्षिक आय 60 हजार से कम है उनकी बेटियों का विवाह 18 वर्ष बाद करने पर उसे प्रोत्साहन के रूप में पांच हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है.

कन्या विवाह योजना के उद्देश्य :-

  • बाल विवाह को कम करने के लिए इस योजना की शुरुआत करना मुख्य उद्देश्य है
  • गरीब परिवार के कन्याओ के विवाह के लिए सहायता प्रदान करना

आवश्यक डॉक्यूमेंट :-

  • वार्षिक आय प्रमाण पत्र
  • रिहायशी प्रमाण-पत्र
  • दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र देकर आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं

इस योजना के अन्तर्गत राशि कन्या के नाम ही होगी किसी और के नाम पर ये राशि नहीं दी जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *